:: Kese Kru :: Official Site :: Gujarats No. 1 Educational Website 7th Pay Commission: इतने दिन में मिल सकती है 21,000 सैलरी और फिटमेंट फेक्टर बढ़ाने को मंजूरी - Kese Kru


: send direct message to facebook :


7th Pay Commission: इतने दिन में मिल सकती है 21,000 सैलरी और फिटमेंट फेक्टर बढ़ाने को मंजूरी

7th Pay Commission, CPC News: केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में और बढ़ोतरी को लेकर नेशनल अनोमली कमेटी फाइनैंस मिनिस्टर अरुण जेटली से मुलाकात कर सकती है।

सेंट्रल गवर्नमेंट, सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से अलग केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी बढ़ा सकती है। सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने के लिए नेशनल अनोमली कमेटी (एनएसी) बनाई थी। यह कमेटी न्यूनतम वेतन और फिटमेंट फेक्टर को बढ़ाने के लिए दिसंबर में अपनी रिपोर्ट पेश कर सकती है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि इस बात पर चर्चा करने के लिए कमेटी फाइनैंस मिनिस्टर अरुण जेटली से मिल सकती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक एनएसी मिनिमम सैलरी को लेकर अपनी फाइनल रिपोर्ट तैयार कर रही है। 22 सदस्यों वाली यह कमेटी 15 दिसंबर को अपनी रिपोर्ट पेश कर सकती है। इसके बाद इस रिपोर्ट को यूनियन कैबिनेट के पास भेज दिया जाएगा।

ऐसी उम्मीद की जा रही है कि एनएसी मिनिमम सैलरी को 18,000 रुपए से 21,000 रुपए करने का सुझाव देगी। इसके अलावा फिटमेंट फेक्टर को भी 2.57 से बढ़ाकर 3.00 करने का सुझाव देगी। सातवें वेतन आयोग ने मिनिमम सैलरी को बढ़ाकर 18,000 रुपए करने की सिफारिश की थी। इस बढ़ोतरी को कैबिनेट की मंजूरी भी मिल गई थी। आपको बता दें कि केंद्रीय कर्मचारियों के दिव्यांग बच्चों को 30,000 रुपए का पढ़ाई भत्ता मिलता था। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद इसे अब बढ़ाकर 54,000 रुपए सालाना कर दिया गया है। अगर दिव्यांग बच्चे के माता और पिता दोनों केंद्र सरकार के कर्मचारी हैं तो कोई एक ही बच्चे के लिए भत्ता ले सकता है।

गौरतलब है कि कैबिनेट ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक न्यूनतम वेतन को 7,000 रुपए से बढ़ाकर 18,000 रुपए महीने करने को पहले ही मंजूरी दे दी है। इसके अलावा फिटमेंट फेक्टर को भी 2.57 गुना बढ़ा दिया गया है। इसके बावजूद केंद्रीय कर्मचारियों की मांग है कि न्यूनतम वेतन 18,000 रुपए महीने से बढ़ाकर 26,000 रुपए महीने किया जाए और फिटमेंट फेक्टर को 2.57 गुना बढ़ाने के बजाए 3.68 गुना बढ़ाया जाए।

Post a Comment

Developed By sarkar

 
Top