:: Kese Kru :: Official Site :: Gujarats No. 1 Educational Website JioPhone को लेकर रिलायंस ने बदली पॉलिसी, अब तीन साल से पहले फोन पर मिलेगा रिफंड - Kese Kru


: send direct message to facebook :

JioPhone को लेकर रिलायंस ने बदली पॉलिसी, अब तीन साल से पहले फोन पर मिलेगा रिफंड

नई दिल्ली (जेएनएन)। रिलायंस जियोफोन यूजर्स अगर एक साल में 1,500 रुपये का रिचार्ज कराते हैं तो उन्हें फोन के लिए डिपॉजिट की राशि जल्दी वापस मिल सकती है। इस बात की जानकारी जियो चैनल के पार्टनर ने दी है। अगर ग्राहक एक साल में 1500 रुपये का रिचार्ज कराते हैं तो उन्हें 1 साल बाद 500 रुपये की राशि वापस मिल जाएगी।

चैनल पार्टनर ने बताया कि अगर यूजर दूसरे साल फोन वापस करता है तो उन्हें 1,000 रुपये की राशि रिफंड की जाएगी। वहीं, तीसरे साल फोन वापस करने पर पूरी 1,500 रुपये की राशि वापस कर दी जाएगी। आपको बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने 21 जुलाई को 4जी फीचर फोन लॉन्च किया था। इसकी कीमत शून्य रखी गई थी। अंबानी ने बताया था कि इस फोन को खरीदने के लिए ग्राहकों को 1,500 रुपये की रिफंडेबल राशि देनी होगी जिसे तीन साल बाद वापस किया जाएगा।

चैनल पार्टनर ने कहा, “अगर एक साल में 1500 रुपये का रिचार्ज कराते हैं तो यह कंपनी के 153 रुपये प्रति महीना प्लान (यह प्लान जियोफोन के साथ पेश किया गया था) से कम में भी संभव है। 1500 रुपये का रिचार्ज कराने वाली शर्त तब भी पूरी हो सकती है, अगर यूजर्स 125 रुपये के प्रति महीना का रिचार्ज कराते हैं या फिर एक बार में ही 1,500 रपये का रिचार्ज करा लेते हैं। हालांकि, देखा जाए तो यह राशि उन रिचार्चेज से भी कम है जो 2जी यूजर्स इस्तेमाल करते हैं। 2जी यूजर्स एक महीने में 150 रुपये का रिचार्ज कराते हैं।” यह सवाल चैनल पार्टनर ने कंपनी से किया है जिसका जवाब फिलहाल नहीं मिल पाया है।

जिओ फोन की डिलीवरी के मामले में  कंपनी ने कि सबसे बड़ी जाहेरात।

जिओ फोन आपको कब मिलेगा ?

ओफिसियल जानकारी के लिए नीचे दी गयी लिंक पर क्लिक करे।
👍
रिलायंस ने अपने जियोफोन की डिलीवरी शुरु कर दी है और अब अस बीच रिलायंस जियोफोन ने अपने फीचर फोन की रिटर्न पॉलिसी में बदलाव किया है. इस नई पॉलिसी में जियो यूजर्स तय वक्त तीन साल यानी 36 महीने से पहले ही जियोफोन वापस कर सकते हैं.

रिलायंस ने अपने जियोफोन की डिलीवरी शुरु कर दी है और अब अस बीच रिलायंस जियोफोन ने अपने फीचर फोन की रिटर्न पॉलिसी में बदलाव किया है. इस नई पॉलिसी में जियो यूजर्स तय वक्त तीन साल यानी 36 महीने से पहले ही जियोफोन वापस कर सकते हैं.

इकॉनमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक जो भी यूजर अपना जियोफोन पहले साल में ही रिटर्न करेंगे उन्हें कंपनी की ओर से कोई रिफंड नहीं दिया जाएगा बल्कि उन्हें 1500 रुपये और GST देना होगा.

वहीं अगर यूजर 12 से 24 महीने यानी एक साल के बाद और दो साल के भीतर ये फोन रिटर्न करता है तो उसे 500 रुपये रिफंड रिलायंस जियो की ओर से दिया जाएगा.

अगर कोई कस्टमर ये फोन 24-36 महीनों के भीतर जियटोफोन रिटर्न करता है तो उसे कंपनी 1000 रुपये देगी. इसके अलावा अगर आप 36 महीने बाद अपना स्मार्टफोन रिटर्न करेंगे तो आप 1500 रुपये का पूरा रिफंड पा सकेंगे.

जैसा कि कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने 21 जुलाई को जियोफोन के लॉन्च के दौरान बताया था कि जियो फोन इफेक्टिव 0 रुपये की कीमत के साथ आएगा. इसके लिए शुरुआती समय में 1500 रुपये देने होंगे और 36 महीने बाद ये रकम रिफंड होगी.

खास बात ये है कि अब कंपनी जियो फोन 36 महीने से पहले भी रिफंड देने मौका दे रही है. हालांकि जियो की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है. कंपनी ने नजदीकी सूत्रों ने मीडिया को ये जानकारी दी है.

आपको बता दें बीते रविवार से जियोफोन की शिपिंग शुरु हो चुकी है. जियोफोन कंपनी अपने रिटेलर्स तक भेज रही है जहां से कस्टमर्स ये फोन पा सकते हैं. अगले 15 दिनों के अंदर 60 लाख जियो फोन की शिपिंग करने का टारगेट दिया गया है.

जियो के मुताबिक जियो फोन को शहरी इलाकों के मुकाबले ग्रामीण इलाकों और कस्बों में पहले भेजा जाएगा.

जियोफोन की डिलीवरी फेज के तर्ज पर शुरु हो चुकी है. जिन्होंने भी इसकी प्री-बुकिंग की है दिवाली तक उन्हें ये फोन मिल जाएगा. 24 अगस्त के जियोफोन की प्री बुकिंग शुरु हुई थी. प्री-बुकिंग के वक्त यूजर को 500 रुपये का भुगतान करना था. इसके बाद डिलीवरी के वक्त 1000 रुपये यूजर को देना होगा.

60 लाख लोगों ने जियो फोन की प्री बुकिंग की है. कंपनी ने इस फोन के प्री-ऑर्डर महज डेढ़ दिन के लिए ही रखे थे. इसके बाद इसके प्री ऑर्डर रोक दिए गए. आप अपने जियो फोन का स्टेटस MyJio के जरिए चेक कर सकते हैं. ऐसे में आप इस एप की मदद से जान सकते हैं कि आप तक आपको जियो फोन कब पहुंचेगा.

रिलायंस जियो के 4जी फीचर फोन की प्री बुकिंग शुरू होने के 2 दिन में ही बंद करनी पड़ गई थी। कंपनी ने तर्क दिया था कि इसकी डिमांड ज्यादा हो गई है इसलिए प्री बुकिंग बंद कर दी। प्री बुकिंग बंद होने के बाद कंपनी ने यह नहीं बताया था कि इसकी डिलिवरी कब शुरू होगी। एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक इसकी डिलिवरी 21 सितंबर से शुरू होगी। जियो एक लाख फोन रोजाना डिलीवर करने की प्लानिंग कर रही है। अभी जियो फोन ताइवान से इंपोर्ट किए जाएंगे। कंपनी का दावा है कि जियो फोन के लिए 60 लाख से ज्यादा लोगों ने बुकिंग की है। कंपनी ने फोन की लॉन्चिंग के समय कहा था कि हर सप्ताह 50 लाख जियो फोन सेल के लिए उपलब्ध कराए जाएंगे।

जियो 4जी फीचर फोन की दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और अहमदाबाद में सबसे पहले डिलीवरी की जाएगी। उसके बाद इस फोन की डिलीवरी देश के दूसरे हिस्सों में की जाएगी। इन 5 शहरों में फोन पहुंचने के बाद जियो सेंटर और रिलायंस जियो स्टोर पर फोन की डिलीवरी होगी। इसके बाद इन दोनों स्टोर से रिटेल स्टोर और डीलर्स के पास फोन भेजे जाएंगे।

Post a Comment

Developed By sarkar

 
Top